ट्रांसजेंडर

एक ट्रांस लड़के की व्यथा

मुझे आज भी याद है वो दिन... जब मैं लड़कों के साथ स्कूल में बैठने के लिए तरसता रहता था।रोना आ जाता था लड़किओं के संग बिठाते थे तो। कुछ समझ नहीं पाया था वो पहला पी... Read More...
धनञ्जय चौहान

‘फीस में बढौतरी न मिटा पाई पढने की जिज्ञासा’

पंजाब विश्वविद्यालय का घटनाक्रम - मेरी नज़र में (अप्रैल २०१७ में लिखित) मैं धनञ्जय मंगलमुखी पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ की प्रथम ट्रांसजेंडर विद्यार्थी हूँ। मै... Read More...

विश्वविद्यालय में ट्रांसजेंडर होना

जब से मैंने होश सम्भाला तब से मैं अपनी असली पहचान की खोज में बटकता रहा। जीवन में ऐसे कई मोड़ आये जब कुछ समझ नहीं आता था कि मेरी असली पहचान क्या है। लेकिन मैंने... Read More...