हिन्दी

अलैंगिकता (असेक्सयूएलिटी) क्या है?

एसेक्सुअलिटी एक यौन अभिविन्यास है जहाँ किसी भी लिंग के प्रति यौन आकर्षण का लगातार अभाव है। इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं होता कि ऐसे लोगों में भावनायें नहीं होती, या संवेदनाएँ नहीं होती।

समलैंगिकता: नज़रिया और कानून

यह कहना कि, विश्व के अलग-अलग हिस्सों में लैंगिक अनुरूपता अलग-अलग दिखायी देती है, बहुत छोटी बात लगती है। लेकिन समलैंगिकों के प्रति भी सांस्कृतिक और व्यक्तिगत नजरिया व्यापक रूप से भिन्न है।

#RhymeAndReason: अस्तित्व

रंग कितने थे वो भीतर जानने मैं चल पड़ा, तन्हाईयों से गुफ़्तगू करने को मैं फिर चल पड़ा

Women

Literature

International