Hindi

'पॉल एक गाथा' (७/८) | तस्वीर: फेबियन हार्टवेल | तस्वीर केवल प्रस्तुतीकरण हेतु'पॉल एक गाथा' (७/८) | तस्वीर: फेबियन हार्टवेल | तस्वीर केवल प्रस्तुतीकरण हेतु|

“पॉल – एक गाथा” – श्रृंखलाबद्ध कहानी (भाग ७/८)

 यह एक वास्विक घटनाओ से प्रेरित परन्तु काल्पनिक कहानी है। तस्वीरें केवल प्रस्तुतीकरण हेतु हैं और उनमें दर्शाए गए लोगों का कथा से कोई संबंध नहीं है। इस कहानी की पिछली कड़ियाँ यहाँ पढ़ें: भाग १ | भाग २ | भाग ३ | भाग ४ | भाग ५ | भाग ६ | प्रस्तुत है कहान... Read More...
पॉल एक गाथा (६/८) | तस्वीर: रणजीत कुमार | गेलेक्सी हिंदी |

“पॉल – एक गाथा” – श्रृंखलाबद्ध कहानी (भाग ६/८)

शाम को ड्यूटी ख़तम होने के बाद मैं पॉल के वार्ड में गया। वो अभी भी सो रहा था। दवाई का असर था। मैं उसके पास बैठा था। तभी उस वार्ड के कम्पाउंडर ने मुझे आकर कहा: "भैया, आज डॉक्टर इस के लिए शॉक थेरपी लिख कर गए हैं। कल इसे शॉक देने के लिए दुसरे हॉस्पिटल शि... Read More...

“पॉल – एक गाथा” – श्रृंखलाबद्ध कहानी (भाग ५/८)

कहानी 'पॉल एक गाथा की पिछली कड़ियाँ यहाँ पढ़ें: भाग १ | भाग २ | भाग ३ | भाग ४ | प्रस्तुत है भाग ५: इतना सुनकर इंस्पेक्टर थोडा ठंडा पड़ गया। और डॉक्टर से कहा, "सर... प्लीज आगे रिपोर्ट मत करना। आगे से ऐसा कतई नहीं होगा।" डॉक्टर ने दोनों पुलिस को वार्... Read More...
'पॉल एक गाथा' (४/८) | तस्वीर: फेबियन हार्टवेल |

“पॉल – एक गाथा” – श्रृंखलाबद्ध कहानी (भाग ४/८)

कहानी 'पॉल एक गाथा की पिछली कड़ियाँ यहाँ पढ़ें: भाग १ | भाग २ | भाग ३ | प्रस्तुत है भाग ४: उसने बताया कि पॉल सेकंड इयर का स्टूडेंट था। कॉलेज में ही स्थित होस्टल में रहता था। वह बहुत टैलेंटेड लड़का है, इधर फोरेन लैंग्वेज का स्टूडेंट है। बहुत ही अच्छ... Read More...
'पॉल एक गाथा' (३/८) | तस्वीर: फेबियन हार्टवेल |

“पॉल – एक गाथा” – श्रृंखलाबद्ध कहानी (भाग ३/८)

कहानी 'पॉल एक गाथा की पिछली कड़ियाँ यहाँ पढ़ें: भाग १ | भाग २ | प्रस्तुत है भाग ३: उसने मेरी तरफ देखा और मुस्कराते हुए अपना हाथ मेरी तरफ बढ़ा दिया। मैंने भी उसका हाथ पकड़कर उसके पास बैठ गया। वह अभी भी मुस्करा रहा था। उसकी वे अधखुली नीली आँखे बहुत मास... Read More...

‘गे संबंधो के लिए असहजता और मजाक क्यों?’

बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल की फोटो सोशल मिडिया पर प्रसारित हो रही है, जिसके कैप्शन में लोग उन्हें गे कपल के तौर पर बता रहे हैं। फोटो के नीचे आने वाले कमेंट में अंग्रेजी में 'लोल' 'एल्माओ' 'रोफ्ल' ... Read More...
पॉल एक गाथा (२/८) | तस्वीर: फेबियन हार्टवेल |

“पॉल – एक गाथा” – श्रृंखलाबद्ध कहानी (भाग २/८)

कहानी 'पॉल एक गाथा' की पहली किश्त यहाँ पढ़ें। प्रस्तुत है भाग २: डॉक्टर के आने के बाद मैं उनके पीछे-पीछे राउंड पर था। वो हर एक मरीज़ के पास रुककर उससे बात करते थे। अपने साथ आये रेसिडन्स डॉक्टरों के साथ उस मरीज़ और उसके इलाज और बीमारी के बारे में चर्चा ... Read More...
अवध गर्वोत्सव २०१७

‘इलज़ाम अब हटा लो!’: पहला अवध गर्वोत्सव लखनऊ में बखूबी संपन्न

ये गर्वोत्सव था हमारी अस्मिता का, पहचान का। गर्वोत्सव था अपने देह के अधिकार का। गर्वोत्सव था अपने इश्क के इज़हार का, अपने होने के एहसास का।
पॉल- एक गाथा (१/८) | तस्वीर: फेबियन हार्टवेल |

“पॉल – एक गाथा” – श्रृंखलाबद्ध कहानी (भाग १/८)

यह एक वास्विक घटनाओ से प्रेरित परन्तु काल्पनिक कहानी है। तस्वीरें केवल प्रस्तुतीकरण हेतु हैं और उनमें दर्शाए गए लोगों का कथा से कोई संबंध नहीं है। प्रस्तुत है कथा का पहला भाग: रोज की तरह आज भी सुबह-सुबह अस्पताल पहुँचकर कपडे बदले और यूनिफार्म पहन क... Read More...
'जीने दो आज़ाद' - कविता | छाया: चैतन्य चापेकर | सौजन्य: क्यूग्राफी

‘जीने दो आजाद’ (कविता)

ढाला गया हूँ उसी सेजिस मिट्टी से वजूद है तुम्हारालाल खून हमाराऔर लाल ही तुम्हारा चाहता हूँ प्यार पानातुम भी तो चाहते होहै जीने की ख्वाहिशदोनों में यकसाँफिर क्यों अंधेरा ?फिर क्यों अंधेरा ? सदियां गुजर चुकी हैं तारीकियों में रहकर अब न पंख मेरे काटो... Read More...
'इस रात की सुबह है' - अविनाश | छाया: राज पाण्डेय | सौजन्य: क्यूग्राफी |

इस रात की सुबह है: अविनाश

हमारे 'इस रात की सुबह है' इस मज़मून के अंतर्गत, लेखिका अपूर्वा कटपटल ने नागपूर के २३ वर्षीय अविनाश की आपबीती को अनुलेखित किया है: कहते है हर इंन्सान में कुछ ऩ कुछ अलग होता है। किसी को खुबसुरत चेहरा, तो किसी को आकर्षक शरीर इत्यादि कुदरत देती है। हम उस... Read More...
'नर्म हाथ' - एक लघुकथा | तस्वीर: ग्लेन हेडन

नर्म हाथ (एक लघुकथा)

इतने सालो में सब बदल गया होगा: उसकी हँसी, उसकी बातें, सब बदल गया होगा। अब वो मिले तो शायद मुझे नए सिरे से अपनी तलाश शुरू करनी होगी... कि 'वो है... या नहीं ?'।