अक्षत शर्मा

बिग बॉस में सुशांत; तस्वीर: कलर्स

“प्रतिनिधित्त्व या अभिव्यक्ति?”

बिग बॉस में सुशांत; तस्वीर: कलर्स सुशांत दिवगीकर को लेकर ये अजीब सी ‘अशांति’ का माहौल क्यों है ? बिगबॉस का नया सीज़न शुरू हो चुका है. इस बार तमाम कंटेस्टेंट... Read More...
'राईट टू लव' प्रोजेक्ट। तस्वीर: अमोल पालकर।

प्यार करना, एक हक़ – मुलाक़ात, ‘राईट टू लव’ प्रोजेक्ट

'राईट टू लव' प्रोजेक्ट। तस्वीर: अमोल पालकर। ‘राइट टू लव’ एक ऑनलाइन प्रोजेक्ट है। एक कोशिश जिसका मक़सद समाज को ये बताना है कि लोगों को अपनी मर्ज़ी से प्यार करने ... Read More...
होमोफोबिया और ट्रांस्फोबिया के विरुद्ध जागतिक दिवस

जीने की राह, ‘जीना’ की

होमोफोबिया और ट्रांस्फोबिया के विरुद्ध जागतिक दिवस १७ मई को "होमोफोबिया और ट्रांसफोबिया के विरुद्ध अंतरराष्ट्रीय दिवस" मनाया जाता है। समाज और देश के अनुसार सम... Read More...
थर्ड जेंडर का आधा-अधूरा हक़। छाया: अमोल पालकर।

‘थर्ड जेंडर’ का आधा-अधूरा हक़

थर्ड जेंडर का आधा-अधूरा हक़। छाया: अमोल पालकर। पिछली दफ़ा साल २०१३ में समलैंगिकता से जुड़े मुद्दे के बाद जेंडर/लिंग/यौनिकता से जुड़ा एक दूसरा मामला देश के सर्वोच्... Read More...
क्वीयर आज़ादी मुंबई, २०१४। तस्वीर: सचिन जैन।

नक़ाब – एक कविता

'ये नक़ाब उन्हें तुम्हारी ही देन है'। 'क्वीयर आज़ादी मुंबई, २०१४'। तस्वीर: सचिन जैन। नक़ाब चेहरों पर तुमने ओढ़े देखे होंगे नक़ाब उनके पर सच मानो तो हक़ीक़त म... Read More...
चुनाव की सरगर्मी।

चुनाव की सरगर्मी

चुनाव की सरगर्मी। तस्वीर: बृजेश सुकुमारन। आने वाले कुछ महीनों में तस्वीर साफ़ हो जाएगी कि देश में किसकी सरकार बनने वाली है।  असल में २०१४ का ये चुनाव अपने में ... Read More...
Gays protest against Sec 377 in India

क्या बात कुफ्र की की है हमने?

३७७ भारत छोडो! (तस्वीर: बृजेश सुकुमारन) सुप्रीम कोर्ट से आये इस फैसले पर आवाजें भी उठनी शुरू हो चुकीं हैं   वो सुबह अपने आप में कई मायने में ख़ास थी। ता... Read More...
Portest by gays against Supreme Court criminalising homosexuality

संघर्ष जारी है

संघर्ष जारी है (तस्वीर: बृजेश सुकुमारन) ये अधिकारों और समानता की लड़ाई है   हमारे समाज का बड़ा तबक़ा अपने अधिकारों को पाने के लिए लड़ रहा है। इसमें ‘आधी आब... Read More...
Hindi Play dushyantapriya

लोकप्रिय “दुष्यन्तप्रिय”

दुष्यंत रूढ़ीवादी सोच को बदलने का एक सराहनीय मराठी नाट्याविष्कार   कालिदास की मशहूर कृति ‘अभिज्ञान शाकुन्तलम्’ को भले ही आपने न पढ़ा हो। हाल ही में मुब... Read More...

अक्षत शर्मा

अक्षत शर्मा दिल्ली में मास कम्युनिकेशन के छात्र हैं। उन्हें संगीत और नयी चीज़ें सीखना पसंद है।